highlights
14872 Audio Programmes | 34 Program Languages | 44 Program Themes | 156 CR Stations | 56 CR Initiatives | and growing...

MKP - Prime numbers (Ep - 69) ( Hindi)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

आज तो सबीन का मिजाज़ बहुत खराब मालूम होता है. इसकी वजह भी बेहद मजेदार है, वो कुछ ऐसे सवालों में फंस गया है जिन्होंने उसका दिमाग पूरा का पूरा हिला के रख दिया है और जवाब है कि मिलता ही नहीं. अब सबीन के पास एक ही रास्ता है, वो बुजुर्ग आदमी, इसलिए जितना जल्दी हो वो उनके पास पहुँचने की कोशिश कर रहा है. अब देखना ये है कि क्या वो बुजुर्ग आदमी सबीन के सवालों का जवाब दे सकेगा या सवाल ही इतना मुश्किल नहीं, जितना सबीन इसको हव्वा बनाये बैठा है |

MKP - Greatest to Least 11 (Ep - 68) ( Hindi)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

आज का दिन तो सबीन और सबीहा के लिए बहुत बड़ा रहा. सूरज मेवात के ठीक उपर आ गया है और अचानक बेहद गर्मी भी होने लगी है. स्कूल से वापिस आते आते बेचारे सबीन की हालत ऐसी हो गयी है कि उसे अब न भूख है न प्यास उसे तो बस बिस्टर दिख रहा है, कि कब वो सोने जाये. नयी क्लास, इतना सारा होमवर्क और हर बार स्टार जितने के लिए नए नए कम्पटीशन ने तो उसे थका ही दिया, इससे ज्यादा की तो कभी उसने उम्मीद ही नहीं की थी. लेकिन सबीन और सबीहा की ज़िन्दगी बोरिंग कभी नहीं रही, अरे भई रोज़ नयी नयी बातें उनके इंतज़ार में कभी दूकान तो कभी खेल के मैदान में जो इंतज़ार करती हैं. चलिए देखें आज कौनसी बात हमारे इंतज़ार में बैठी है |

MKP - Greatest to Least - 1 (Ep - 67) ( Hindi)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

अब सबीन और सबीहा की छुट्टियाँ भी खत्म हो गयी हैं और इसी के साथ शुरू हो गया है नए रोमांच का नया सफ़र. इसी के साथ हमें ये भी पता चला कि इम्तेहान अच्छे से पास कर अब सबीन और सबीहा हमारे वो नन्हें मुन्ने बच्चे नहीं रहे, जहाँ सबीन छठी क्लास में पहुँच गया वहीँ सबीहा भी अब आठवीं क्लास में आ गयी है. लेकिन हमारे सबीन मियां आज भी सबको करते हैं परेशान, पूछ पूछ के सवाल. और इस बात से हो जाते हैं सब हैरान कि कहाँ से आते हैं ये गोल गोल सवाल, सवाल जवाब से याद आया अब तो सबीन सबीहा कि दोस्ती उस बुजुर्ग आदमी से इतनी गहरी हो गयी है कि वक्त मिलते ही झट से दोनों उनके पास पहुँच जाते हैं. चलिए आज देखें ये दोनों क्या कमाल दिखाते हैं |

MKP - Satyandranath Bose (Ep - 66) ( Hindi)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

अब मैथ में हम रोज़ कुछ न कुछ नया ही नहीं बल्कि मैथ के कॉन्सेप्ट्स की गहराईयों में भी जा रहे हैं, साथ ही मैथ हमारे जीवन में कहाँ कहाँ ही नहीं कैसे इस्तेमाल होती ये भी समझ आ गया है. येही नहीं कभी मिल वाला तो कभी कोई कारपेंटर या फिर कोई मिस्त्री इसका इस्तेमाल करता नज़र आने लगा है. मुझे तो लगता है कुछ वक्त बाद सब मैथ की बोली ही बोला करेंगे. कैसा लगेगा तब ये सोच सोच ही मुझमें एक नया जोश आ जाता है. लेकिन मैथ के क्षेत्र में खोज करने वालों के बारे में भी जानना ज़रूरी है. तो चलें इस मस्ती की पाठशाला मैथ की पाठशाला में |

MKP - Manjul Bhargav (Ep - 65) ( Hindi)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

अब तो हलकी हलकी गर्मी महसूस होने लगी है, सुबह शाम ठंडी हवा के साथ चाय और पकोड़े मिल जायें तो मज़ा ही आ जाये. लेकिन साथ ही ध्यान रहे अपने स्वस्थ्य का भी क्यूंकि बदलते मौसम के साथ कब खांसी जुकाम लग जाये कुछ कह नहीं सकते, अब देखो पिछले दिनों हमारे सबीन मियां को उनकी हीरोपंती ने कैसे बुखार और जुकाम से बिस्तर पर लेटा दिया. लेकिन ये भी उसके लिए मज़ा ही था आखिर अम्मी और सबीहा से सेवा जो खूब करायी. अम्मी तो शुकर मना रही हैं कि इम्तेहान खत्म हो गए वरना न जाने कैसे इम्तेहान के लिए जा पाता सबीन |

MKP - Sudhakar Diwidi (Ep - 64) ( Hindi)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

स्कूल की छुट्टियाँ क्या पढ़ी, सबीन और सबीहा तो जिद्द लगा बैठे कि कुछ भी हो गुडगाँव वाली बुआ के पास जाना ही है. अब हुसैन साब करें भी तो क्या वादा जो कर बैठे थे बच्चों से, इसलिए अब हार मान वो ले चले हैं बच्चों को सलमा बहन के यहाँ. सबीन तो सोच सोच खुश हुए जा रहा है कि इसी बहाने वो मेट्रो में भी घूम लेगा... अब देखना ये है दोस्तों कि क्या वाकेय में सबीन को मेट्रो में घूमने का मौका मिलता है या नहीं, इसी के साथ आज हो जाईये सवार गुडगाँव की बस में हमारे साथ...

MKP - Place Value (Ep - 63) ( Hindi)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

साबिन और सबीहा को उस बुजुर्ग आदमी के साथ फलों के बगीचे में घूमते हुए बहुत मज़ा आया, साथ ही एक नए मजेदार तरीके से उन्होनें प्लेस वैल्यू के बारे में बहुत कुछ जाना. और ये सब सीखते हुए, आमियाँ और नीम्बू भी तोड़ लिए, ना जाने किसके पेड़ रहे होंगे.... खैरियत तो इस बात की है कि यह दोनों पकडे नहीं गए! वरना हो सकता था बहुत दांत और मार मिलती दोनों को. अब शाम होने लगी है, साबिन और सबीहा घर को वापिस ही आ रहे होते हैं, जब उन्हें नाथूराम मिल जाते हैं. नाथू राम अपने गेहूं के कट्टे मिल तक ट्रेक्टर से ले जा रहे हैं, जब अचानक उनके कुछ कट्टे ट्रेक्टर से लुढ़क जाते हैं. साबिन नाथू जी को रोकता है और उन्हें कट्टे उठाने में मदद भी करता है, चलिए देखते हैं इस दौरान क्या क्या होता है |

MKP - Place value to Thousands (Ep - 61) ( Hindi)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

दोस्तों इस बात से सबको ही हैरानी है कि काली इस वीराने में पहुंची कैसे और इस बूढ़े आदमी के साथ कैसा उसका ये लम्बा सफ़र कटा. सबीन ने तो जैसे कसम ही खा ली है कि वो उस बूढ़े आदमी से मिलकर रहेगा जो मैथ में इतना होशियार है कि उसने काली को भी सब सिखा डाला.. आज सबीन को मना ही लिया कि वो उसे और सबीहा को वहन ले चले जहाँ वो बुज़ुर्ग आदमी रहता है... तो हो जायें तैयार इस नए सफ़र के लिए और जानें कि अब हम कैसे और क्या क्या सीखने वाले हैं, सिर्फ और सिर्फ इस मैथ की पाठशाला में खूब सारी मस्ती के साथ |

MKP - Place value to Thousands (Ep - 62) ( Hindi)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

वाह, बड़ा अच्छा मौसम होता रहा है, जैसे जैसे ठण्ड का मौसम जा रहा है, उसके साथ गर्मियों के दिन आते जा रहे हैं. अब सुबह जल्दी उठने में कोई परेशानी नहीं होती. साबिन और सबीहा तो जैसे इस छुट्टी का पूरा मज़ा सो सो कर ही लेना चाहते हैं. लेकिन सबीहा के दिमाग में तो जैसे उत्सुक की बात ही घर कर गयी है कि काली कहीं आस पास है और इस वजह से उसने सबीन को इतना परेशान किया कि आधी रात को उठ बेचारे सबीन को दूसरे कमरे में जाकर सोना पड़ा. लेकिन ये क्या सुबह सुबह से ही भाग दौड़ शुरू हो गयी है. चलिए चलकर देखें तो हुसैन साब के घर में क्या चल रहा है |

MKP - Story of Aandand Kumar (Ep - 59) ( Hindi)   
 Creative Commons Attribution-NonCommercial

आजकल बच्चों के इम्तेहान चल रहे है. बच्चों ने जोर शोर से इसकी तैयारी कर रखी है. इसके साथ साथ सबीन और सबीहा साथ ही उनको मैथ की नई नई बातों से भी रूबरू करवाते जा रहे हैं. अब तक हम मैथ के कॉन्सेप्ट्स यानी तस्‍बवुर को जान समझ रहे थे पर अब हम यह सब भी जानते जा रहे हैं कि इन कॉन्सेप्ट्स को किसने और कैसे बनाया और वे लोग उस मुकाम तक कैसे पहुंचे.. हमारी सबीहा की ख्‍वाइश भी एक मैथ टीचर बनने की है , और ऐसे बहुत से और बच्चे भी होंगे जो कुछ बड़ा बनने की चाह रखते हैं. लेकिन सबीन इस सब से परे कुछ और ही सोच रहा है... आइये जानते हैं आखिर वो करना क्या चाहता है |

Education --> Vocational Education

204 Programme(s)

Vocational education basically includes skill and technical training that prepares an individual for a job or a career in different areas ranging from engineering, medical technology, nursing, craft and accounting. Vocational education is generally experience based and practical; hence gives away an experience to the trainees to which employers are looking for. In this thematic area you will find radio programme that provide information about such courses.